Saturday, September 19

भागलपुर विक्रमशिला सेतु के बगल में नहीं बनेगा पीपा पूल, जिला प्रशासन ने अब इस तरफ किया फोकस

भागलपुर और विक्रमशिला पुल पर रोजाना लग रहे जाम से मुक्ति के लिए विक्रमशिला पुल के बगल में पीपा पुल बनने की उम्मीद ख’त्म होते जा रही है। पीपा पुल से नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा है। यही कारण है कि जिला प्रशासन अब समानांतर पुल के निर्माण में तेजी लाने पर फोकस कर रहा है। जिला प्रशासन ने मुआवजा का भुगतान करने के लिए विभाग से आवंटन की मांग की है।

14 दिसंबर को भवन निर्माण सह जिले के प्रभारी मंत्री अशोक चौधरी की अध्यक्षता में जिला क्रियान्वयन कार्यक्रम समिति की बैठक हुई थी। बैठक में जनप्रतिनिधियों ने जाम की समस्या को प्रमुखता से उठाया। कहा गया कि पीपा पुल बनने पर छोटी गाड़ियों का लोड विक्रमशिला पुल पर कम होगा। प्रभारी मंत्री के निर्देश पर उसी दिन डीएम ने पीपा पुल बनाने के लिए पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव को प्रस्ताव भेज दिया। कहा गया कि मोकामा स्थित गंगा पुल पर भारी वाहनों का आवागमन बाधित होने से विक्रमशिला पुल पर दबा’व बढ़ गया है। एनएच सहित अन्य सड़कों पर जाम की स्थिति बनी रहती है।

बताया जा रहा है कि प्रस्ताव पर मुख्यालय गंभीर नहीं है। पीपा पुल बनने से होने वाले नुकसान को देखते हुए विभाग भी जल्द निर्णय लेने की स्थिति में नहीं है। भागलपुर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक में भी इस मामले को उठाया गया था। बैठक में पीपा पुल को सफल नहीं होने की बात कही गयी थी। हालांकि उसे खारिज नहीं किया गया।

अधिकारियों का मानना है कि पीपा पुल बनने से नुक’सान भी हो सकता है। बाढ़ और बरसात के दिनों में पीपा पुल चालू नहीं रहता है। इसके अलावा गंगा होकर जहाज का परिचालन भी बाधित होगा। धार को प्रभावित होने का भी खतरा बना रहता है। भौगोलिक स्थिति भी इसके लिए बेहतर नहीं मानी जा रही है।

समानांतर पुल पर फोकस: डीएम डीएम प्रणव कुमार ने बताया कि पीपा पुल बहुत सफल नहीं हो सकता है। इसके चलते समानांतर पुल के निर्माण कार्य में तेजी लायी जा रही है। जमीन की जांच और सर्वे की प्रक्रिया पूरी कर ली गयी है। विभाग से करीब 59.12 करोड़ रुपये आवंटन की मांग की गयी है। आवंटन मिलने पर मुआवजा का भुगतान किया जाएगा। पुल निर्माण का कार्य जल्द शुरू किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *