Tuesday, November 24

बिहार से दिल्ली बस यात्रियों के लिए नयी व्यवस्था लागू, साथ साथ किराया और टाइमटेबल जारी

पटना दिल्ली बस सेवा मंगलवार से शुरू हो गई है। बस सेवा की शुरुआत मंगलवार से शुरू होगी और इसके लिए बुकिंग सोमवार से ही कर सकते हैं बस की बुकिंग ऑनलाइन भी हो रही है। रेडबस, मेकमाईट्रिप, पेटीएम, गोइबिबो इन एप पर भी बस की टिकट उपलब्ध है यात्री यहां से अपनी टिकट बुक कर सकते हैं। कथा जो ऑनलाइन बुकिंग नहीं कर पा रहे हैं वह मीठापुर और बांकीपुर बस स्टैंड से भी सुबह 6:00 बजे से रात 10:00 बजे के बीच में टिकट ले सकते हैं।

 

पटना से दिल्ली केवल 2 बसे जाएंगी जिनमें से एक स्लीपर और दूसरी सीटर होगी। तथा सीटर बस दोबारा 1:00 बजे रवाना होगी। और यह बस में केवल 50 यात्री होंगे और प्रति यात्री का किराया 1650 रुपए होगा। इसी प्रकार स्लीपर बस में 41 लोगों को सीट मिलेगी और इसका किराया ₹1900 प्रति यात्री होगा। और यह बस शाम 4:00 बजे दिल्ली रवाना होगी। सरकार ने उत्तर प्रदेश के अन्य नगरों तथा जिलों के लिए भी बस व्यवस्था शुरू करने का आदेश दे दिया है। अन्य नगरों में भी लगभग दो-तीन दिनों में बस सेवा शुरू हो जाएगी।

 

 

विभागीय अधिकारी‌ के मुताबिक परिवहन विभाग ने यूपी सरकार को इसके लिए पत्र लिखा था। जिसके बाद गाजियाबाद के लोगों को बस सेवा की इजाजत मिल गई है और यूपी के अन्य जिलों के लिए वहां की सरकार ने तैयारी शुरू कर दी है। परिवहन विभागों का कहना है कि छठ पूजा और दीपावली के पहले झारखंड व नेपाल के लिए भी बस सुविधा उपलब्ध होने की संभावना है इसके लिए उन्होंने वहां की सरकार से अनुमति मांगी है। ताकि वहां के लोगों को आने जाने में किसी प्रकार की असुविधा ना हो।

 

 

बस सुविधा का लाभ उठाने के लिए हमें कुछ नियमों का पालन करना होगा। या नियम सरकार ने हमारी सुरक्षा को देखते हुए बनाए हैं। और हमें इन नियमों का पालन सख्ती से करना होगा। वाहन को साफ सुथरा रखना और हर ट्रिप के बाद वाहन को सैनिटाइज करना होगा, ड्राइवर और कंडक्टर को साफ कपड़े फेस मास्क तथा हैंड ग्लव्स पहनना होगा।

 

 

वाहनों के अंदर कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय के पोस्टर लगाने होंगे, जिला प्रशासन की ओर से उपलब्ध पंपलेट यात्रियों को देने होंगे, वाहन से चढ़ते उतरते वक्त सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अति आवश्यक है, सभी यात्रियों को फेस मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग करना आवश्यक है, वाहन में निर्धारित सीट के अलावा एक भी अधिक यात्री नहीं होगा, तथा यात्रियों को बस में चढ़ने से पहले सैनिटाइजर उपलब्ध कराया जाएगा और उनका टेंपरेचर की जांच होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *