Saturday, April 17

Gorakhpur

गोरखपुर को इन दो ट्रेनों के लिए खुशखबरी, अब यात्रियों को मिलेगा भीड़ से मुक्ति
Gorakhpur

गोरखपुर को इन दो ट्रेनों के लिए खुशखबरी, अब यात्रियों को मिलेगा भीड़ से मुक्ति

उत्तर पश्चिम रेलवे के जयपुर मंडल में दोहरीकरण व प्री नान इंटरलाकिंग का कार्य चल रहा है। इसके चलते विभिन्न तिथियों में कुछ ट्रेनों का संचलन प्रभावित रहेगा। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार 20 व 21 फरवरी को पोरबंदर से चलने वाली 19269 पोरबंदर-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस फुलेरा-रिंगस-रेवाड़ी के रास्ते चलेगी। 10, 17, 23 व 24 फरवरी को चलने वाली 19270 मुजफ्फरपुर-पोरबंदर एक्सप्रेस रेवाड़ी-रिंगस-फुलेरा के रास्ते चलेगी। यात्रियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए रेल प्रशासन ने गोरखपुर-सिकंदराबाद-गोरखपुर एक्सप्रेस में अतिरिक्त कोच लगाने की घोषणा की है। 12589 गोरखपुर-सिकंदराबाद एक्सप्रेस में 12 फरवरी को गोरखपुर से तथा 12590 सिकंदराबाद-गोरखपुर एक्सप्रेस में 14 फरवरी को सिकंदराबाद से स्लीपर के एक-एक कोच लगाए जाएंगे। यह जानकारी मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह ने दी। कौवाबाग रेलवे क्रासिंग...
जरूरी सुचना : पुरे गोरखपुर में आदेश जा’री, घरवालों, दुकानदारों, ठेलेवालों, स्कूलवालों को भरना होगा जु’र्माना
Gorakhpur

जरूरी सुचना : पुरे गोरखपुर में आदेश जा’री, घरवालों, दुकानदारों, ठेलेवालों, स्कूलवालों को भरना होगा जु’र्माना

नगर निगम क्षेत्र में गं'दगी फैलाने वालों को अब भा'री-भरकम जु'र्माना देना होगा। नगर निगम ने सदन बोर्ड द्वारा स्वीकृत जु'र्माने को लेकर अखबारों में अंतिम विज्ञापन प्रकाशित करा दिया है। जल्द ही सरकारी गजट होने के बाद नगर निगम जु'र्माना व'सूलने लगेगा। पालतू पशुओं के गं'दगी करने से लेकर पार्क में कूड़ा फेंकते पकड़े जाने पर लोगों से जु'र्माना व'सूला जाएगा। नगर निगम ने जो सूची जा'री की है उसमें 24 बिंदुओं पर गं'दगी को लेकर जु'र्माना निश्चित किया गया है। पालतू कुत्ते, गाय, भैंस, बकरी, भेड़, ऊंट, घोड़ा, सु'अर यदि सार्वजनिक सड़क या पार्क में गं'दगी करते हैं तो उनके मालिकों को 1,000 रुपये जु'र्माना नगर निगम में जमा कराना होगा। खुले में क'चरा डालने पर 100 रुपये तो दुकानदारों पर गं'दगी फैलाने का जु'र्माना 250 रुपये होगा। रेस्टोरेंट मालिक गं'दगी के आरोपी मिलते हैं तो उनसे 500 रुपये जु'र्माना व'सूला जाएगा।...
गोरखपुर में 12948 रोजगार का सौगात, 7200 सीट बुक हुआ जल्दी करे बाद में मत बोलना बेरोजगार हूँ।
Gorakhpur

गोरखपुर में 12948 रोजगार का सौगात, 7200 सीट बुक हुआ जल्दी करे बाद में मत बोलना बेरोजगार हूँ।

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय परिसर में रविवार को आयोजित होने वाले वृहद रोजगार मेले में 12948 लोगों को रोजगार मिलेगा। आयोजकों के अनुसार शनिवार शाम छह बजे तक 83 कंपनियों ने इन पदों पर भर्ती के लिए अपनी सहमति दे दी थी। मेले में अधिक से अधिक लोगों को रोजगार दिलाने के लिए आयोजक आखिरी क्षण तक विभिन्न कंपनियों से संपर्क साधने में जुटे रहे। मेले में अभ्यर्थियों को कोई कठिनाई न हो। इसके लिए शनिवार को दीक्षाभवन में कौशल विकास मिशन, प्रशिक्षण व रोजगार के डायरेक्टर कुणाल सिल्कू ने विभाग से संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि समय से पहले छोटे-छोटे बिंदुओं पर तैयारी कर ली जाए। डिस्प्ले बोर्ड लगा दिए जाएं। मेले में 330 कर्मचारी, 330 वालंटियर लगाए गए हैं। 70 काउंटर बनाए गए हैं। साक्षात्कार के लिए दीक्षा भवन के 32, वाणिज्य संकाय के 55, गृह संकाय के सात, दृश्य कला के तीन कक्ष होंगे। ...
गोरखपुर से सीएम योगी ने बेरोजगारों को दिया शानदार सौगात, युवाओ को मिलेगा 2500 मानदेय
Gorakhpur

गोरखपुर से सीएम योगी ने बेरोजगारों को दिया शानदार सौगात, युवाओ को मिलेगा 2500 मानदेय

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को गोरखपुर विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित वृहद रोजगार मेला और नियुक्ति पत्र समारोह को संबोधित करते हुए रोजगार को लेकर प्रदेश सरकार की एक बड़ी स्कीम का ऐलान किया। उन्होंने बताया कि इस वर्ष सरकार की ओर से एक इंटर्नशिप स्कीम शुरू की जा रही है, जिसके तहत युवाओं को उनकी शिक्षा के मुताबिक विभिन्न संस्थाओं और उद्योगों से जोड़ा जाएगा। छह महीने या फिर साल भर की इंटर्नशिप करने वाले हर युवा को मानदेय के तौर 2500 रुपये दिया जाएगा। इसमें से 1500 रुपये केंद्र सरकार और 1000 रुपये प्रदेश सरकार वहन करेगी। इंटर्नशिप पूरी होने के बाद युवाओं के प्लेसमेंट का इंतजाम भी सरकार की ओर से किया जाएगा। इसके लिए एक एचआर सेल भी बनाई जाएगी। लखनऊ में आयोजित डिफेंस एक्सपो की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इसमें 70 देशों के रक्षामंत्री, विदेश मंत्री और डिफेंस चीफ के शामिल होने स...
देश के सबसे बड़े वेटिंग हाल गोरखपुर का अब यहां यात्रियों को मिलेगा ये सुविधा हुआ घोषणा
Gorakhpur

देश के सबसे बड़े वेटिंग हाल गोरखपुर का अब यहां यात्रियों को मिलेगा ये सुविधा हुआ घोषणा

यात्री सुविधाओं का खास ख्याल रख रहा रेलवे एक और सुविधा देने जा रहा है। स्टेशन पर आप ट्रेनों की अपडेट जानकारी लेने के साथ नाश्ता और भोजन भी कर सकेंगे। गोरखपुर रेलवे स्टेशन स्थित देश के सबसे बड़े निर्माणाधीन वेटिंग हॉल (लगभग 12 हजार स्क्वायर फीट) में फास्ट फूड यूनिट खुलेगी। हॉल के पश्चिमी छोर पर लगभग 434 स्क्वायर फीट जगह आवंटित भी हो गई है। निर्माण और संचालन की जिम्मेदारी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (आइआरसीटीसी) को सौंपी गई है। हालांकि, आइआरसीटीसी पिछले वर्ष से ही फूड प्लाजा के लिए जगह मांग रहा है, लेकिन रेलवे प्रशासन ने अभी यूनिट खोलने की ही अनुमति दी है। दरअसल, विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन (विश्व का सबसे लंबा प्लेटफार्म- 1366.44 मीटर) पर खानपान की समुचित व्यवस्था नहीं है। प्लेटफार्म नंबर दो स्थित जन आहार भी महीनों से बंद पड़ा है। यात्री निराश होकर लौट जाते हैं। प्लेटफार्मों...
गोरखपुर में मजिस्ट्रेट ने शुरू कराया लैंड बैंक, आप जो भी हो सौपना होगा जमीन
Gorakhpur

गोरखपुर में मजिस्ट्रेट ने शुरू कराया लैंड बैंक, आप जो भी हो सौपना होगा जमीन

ग्रामसभा की बंजर, परती, चारागाह और खलिहान जैसी सरकारी जमीनें जल्द ही अवैध कब्जों से मुक्त हो जाएंगी। 'गोरखपुर पहल नामक अभियान के तहत खुली पैमाइश में ऐसी जमीनें न केवल चिन्हित होंगी बल्कि लैंड बैंक के रूप में विकसित भी की जाएंगी। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट गौरव सिंह सोगरवाल ने सदर तहसील से इसकी शुरुआत कर दी है। प्रयोग सफल रहा तो इसे पूरे जनपद में लागू किया जाएगा। सदर तहसील के पिपराइच स्थित ताज पिपरा, अगया और सोनवे गुनरहा गांव में जमीनों से अवैध कब्जा हटाने के लिए 11 लेखपाल व तीन राजस्व निरीक्षक की टीम गठित कर दी गई है। खतौनी और नक्शा के आधार पर गांव में खुली पैमाइश के दौरान यह पता लगाया जाएगा कि यहां बंजर, चारागाह, तालाब समेत श्रेणी तीन, चार, पांच, छह नंबर की कितनी जमीनों पर कौन-कौन काबिज है। अतिक्रमण और अवैध कब्जों को खाली कराकर इसका विवरण लैंड बैंक रजिस्टर में दर्ज कराया जाएगा। इस प्रक्रिया...
गोरखपुर ज़ोन के इस जिले का नाम बदलने की पूरी तैयारी में योगी सरकार, ये है संभावित नाम
Gorakhpur, Trending

गोरखपुर ज़ोन के इस जिले का नाम बदलने की पूरी तैयारी में योगी सरकार, ये है संभावित नाम

बस्‍ती का नाम बदलकर वशिष्‍ठ नगर या वशिष्‍ठी नगर करने के लिए प्रशासन ने शासन को प्रस्‍ताव भेजा था। इस प्रस्‍ताव को अमली जामा पहनाने पर विचार-विमर्श कई स्‍तरों पर चल रहा है। अब राजस्व परिषद ने आयुक्त और डीएम बस्ती को पत्र भेजकर नाम परिवर्तन की इस प्रक्रिया पर होने वाले खर्च के बारे में पूछा है। बस्ती का नाम वशिष्ठ नगर करने की प्रक्रिया पर एक करोड़ रुपये का खर्च होगा। आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद की ओर से ओएसडी सुनील कुमार झा ने बस्‍ती के आयुक्‍त और डीएम को लिखे पत्र में कहा कि आपकी तरफ से 06 जनवरी 2020 को जिले का नाम बदल कर वशिष्ठ नगर करने का प्रस्ताव भेजा गया था। इस प्रस्ताव के साथ जिले के नाम बदलने के औचित्य और संभावित खर्च का भी विवरण भेजा गया है। यह खर्च लगभग एक करोड़ रुपया बताया गया है। ओएसडी ने फिर से आयुक्त और डीएम को भेजे ...
सौगात : गोरखपुर शहर के बीचोबीच 6 लेन सड़क का शानदार तोहफा, 2 अरब से बदल जायेगा अपना शहर
Gorakhpur

सौगात : गोरखपुर शहर के बीचोबीच 6 लेन सड़क का शानदार तोहफा, 2 अरब से बदल जायेगा अपना शहर

शहर की पहली सिक्स लेन सड़क नौसढ़ से पैडलेगंज के बीच बनेगी। जेल बाईपास को फोर लेन किया जाएगा तो शहर के दो प्रमुख चौराहों का चौड़ीकरण भी होगा। इन कार्यों का खाका तैयार करने के बाद लोकनिर्माण विभाग ने मंजूरी के लिए शासन में भेज दिया है। लखनऊ और वाराणसी की तरफ आने-जाने वाले वाहनों की भीड़ के चलते नौसढ़ से पैडलेजगंज मार्ग पर आए दिन जाम लगता है। शहर का प्रवेश द्वारा माने जाने वाले नौसढ़ से पैडलेगंज चौराहे तक प्रस्तावित सिक्सलेन सड़क 5.4 किमी लंबी और 32 मीटर होगी। इसके लिए 74.31 करोड़ रुपये का प्रस्ताव तैयार किया गया है। इसके अलावा 8.5 किमी लंबे जेल बाईपास को भी फोरलेन किया जाएगा। इस पर 154.97 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान है। गोलघर काली मंदिर और मोहद्दीपुर चौराहे को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए इसका चौड़ीकरण किया जाएगा। दोनों चौराहों के लिए तीन-तीन करोड़ रुपये का प्रस्ताव भी शासन को भेजा गया ह...
गोरखपुरवासियो को जल्द मिलेगी ये बड़ी खुशखबरी, शहर के डीएम के. पंडियान ने दी ये जरूरी सुचना
Gorakhpur

गोरखपुरवासियो को जल्द मिलेगी ये बड़ी खुशखबरी, शहर के डीएम के. पंडियान ने दी ये जरूरी सुचना

अब जनता का इंतजार खत्म होने को है। जिला प्रशासन ने चिलुआताल को संरक्षित करने के साथ ही उसे पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की तैयारी शुरू कर दी है। रामगढ़ताल पर बनाए गए 'नया सवेरा' की तर्ज पर ही चिलुआताल को विकसित किया जाएगा। इस पर करीब 50 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। ताल में दो नौका विहार बनाए जाएंगे। इसके अलावा ताल के चारों ओर घाट और पाथवे भी बनाया जाएगा जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिल सके। चिलुआताल को विकसित करने में आ रही अड़चनों को दूर करने के लिए तहसीलदार सदर डॉ. संजीव दीक्षित के नेतृत्व में राजस्व टीम ने सोमवार को मौके का मुआयना किया है। करीब चार सौ एकड़ में फैले चिलुआताल को जिला प्रशासन फर्टिलाइजर का निर्माण करने वाली संस्था एचयूआरएल (ङ्क्षहदुस्तान उर्वरक रसायन लिमिटेड) के सहयोग से शहर का नया पिकनिक स्पाट बनाने जा रहा है। जिला प्रशासन की कार्य योजना के मुताबिक जब तक एचयूआरए...
गोरखपुर शहर का ह्रदयस्थली गोलघर अब दिखेगा ऐसा, 48 करोड़ रुपये होंगे खर्च और साथ में
Gorakhpur

गोरखपुर शहर का ह्रदयस्थली गोलघर अब दिखेगा ऐसा, 48 करोड़ रुपये होंगे खर्च और साथ में

स्मार्ट एंड सेफ सिटी योजना के तहत बेतियाहाता से पुलिस लाइन होते हुए रेलवे बस स्टेशन तक सड़क को स्मार्ट बनाने के प्रस्ताव को शासन से मंजूरी मिल गई है। इसके साथ ही शहर की हृदयस्थली गोलघर बाजार भी स्मार्ट बनेगा। इस पर 48 करोड़ रुपये खर्च होंगे। बजट मिलते ही काम शुरू करा दिया जाएगा। गोलघर की दुकानों को लखनऊ के हजरतगंज की तर्ज पर एक रंग में रंगा जाएगा। हालांकि एक वर्ष पहले से दुकानदार इस पर काम कर रहे हैं। यह होंगे कार्य:- एक से दूसरे छोर तक एक समान होगी सड़क की चौड़ाई, अंडरग्राउंड डक्ट बनाए जाएंगे। इससे घरों व दुकानों में कनेक्शन देने के लिए बिजली के तार, गैस व जलापूर्ति की पाइप के लिए सड़क काटनी नहीं पड़ेगी। ड्रेनेज सिस्टम भी अंडरग्राउंड होगा। पैदल यात्रियों के लिए पाथ वे बनेगा। स्ट्रीट लाइट लगाई जाएंगी। ई रिक्शा और आटो के लिए जगह बनाई जाएगी। दिव्यांगों के लिए दुकानों के सामने रैंप बनाए जा...