Saturday, April 17

Ranchi

सब हैरान ये कश्मीर नहीं झारखण्ड की है तस्वीर, कोयले के राख पर बिछा बर्फ का चादर, सब ले रहे सेल्फी
Ranchi

सब हैरान ये कश्मीर नहीं झारखण्ड की है तस्वीर, कोयले के राख पर बिछा बर्फ का चादर, सब ले रहे सेल्फी

रांची। सुखाड़ के लिए बदनाम पलामू का नजारा मंगलवार की सुबह एकदम बदला हुआ था। चारों ओर बर्फ की सफेद चादर बिछी थी। कोयल नदी के तट पर दूर तक जहां देखो वहां ओले पसरे थे। युवाओं व बच्चों ने इस मौसम का खूब लुत्फ लिया। खेले, जमकर सेल्फी ली। कई बुजुर्गों ने कहा कि हमने आज तक पलामू में ऐसा मौसम नहीं देखा। कोयल की रेत उड़ते तो देखी है लेकिन उस पर बर्फ की सफेद चादर पहली बार देखी है। मंगलवार को तड़के पलामू का मौसम सामान्य ही था। लेकिन कुछ देर बाद 7:45 बजे झमाझम बारिश शुरू हो गई। ठंडी हवा के साथ ओलावृष्टि होने लगी। अंधेरा छा गया। देखते-देखते पूरा क्षेत्र बर्फ की सफेद चादर में ढंक गया। बारिश रुकते ही बच्चों के साथ युवक कोयल नदी की ओर निकल गए। सबके मुंह से बस एक ही बात निकल रही थी कि वाह, आज तो बिना गए कश्मीर की सैर कर ली। गौरतलब है कि पलामू सुखाड़ के लिए जाना जाता है। गर्मी की शुरुआत हो...
राँची के पार्क में ज’बरन प्रेमी जोड़े से लगवाया सिंदूर, पुलिस को देखते ही फ’रार हुए लगवाने वाले
Ranchi

राँची के पार्क में ज’बरन प्रेमी जोड़े से लगवाया सिंदूर, पुलिस को देखते ही फ’रार हुए लगवाने वाले

वेलेंटाइन डे के मौके पर शुक्रवार को रांची में एक श'र्मना'क घट'ना हुई। यहां मोरहाबादी स्थित ऑक्सीजन पार्क में 12 युवकों ने एक प्रेमी युगल की ज'बर'न शादी करवा दी। दबाव में आकर युवक को युवती मांग में सिंदूर भरना पड़ा। यह घ'टना तब घटी, जब यह प्रेमी युगल पार्क में घूम रहा था। बताया जाता है कि पार्क में कई प्रेमी जोड़े घूम रहे थे, तभी 12 युवक एक साथ पार्क में पहुंच गए गए। इन्हें देखकर कई युवक और युवती पार्क से बाहर आ गए। युवकों ने एक प्रेमी युगल को प'कड़ लिया। युवकों ने दोनों से पूछताछ की तो युवक ने कहा कि युवती उसकी प'त्नी है। इसी बात पर युवकों ने अपने पास से सिं'दूर दिया और युवक को लगाने के लिए कहा। युवक ने मजबू'री में युवती को सिं'दूर लगा दिया। इसके बाद युवकों ने उस पर द'बाव बनाया कि वह लड़की के घरवालों को फोन करे। इसी बीच पी'सीआर के जवान पहुंच गए। पुलिस को देखते ही सभी युवक पार्क से भा'ग न...
भारत सरकार का निर्देश जा’री, अगर राँची में रहते है तो पढ़े और बनाये अपने शहर को जैसा आप चाहते हैं।
Ranchi

भारत सरकार का निर्देश जा’री, अगर राँची में रहते है तो पढ़े और बनाये अपने शहर को जैसा आप चाहते हैं।

शहर में मौजूद सुविधाओं को लेकर अब आपको खुद तय करना है कि कौन सी सुविधाएं बढ़नी चाहिए और क्या-क्या नया होना चाहिए। इसके लिए आपको अपने मोबाइल पर एक एप डाउनलोड करके अपनी प्राथमिकताएं की गिनानी होंगी। ईज ऑफ लिविंग को लेकर चल रहे राष्ट्रव्यापी सर्वे वे रांची भी शामिल है और आम लोगों के फीडबैक के आधार पर नगर विकास विभाग आने वाले दिनों में शहर में सुविधाएं बहाल करने की रणनीति तैयार करेगा। भारत सरकार के आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के निर्देश पर 1 फरवरी से लेकर 29 फरवरी के बीच देश के 114 शहरों में ईज ऑफ लिविंग 2019 (Ease of Living 2019) सर्वे जा'री है। इन शहरों में झारखंड की राजधानी रांची का भी नाम है। राजधानी रांची में शहरी जीवन शैली कैसी है और प्रतिदिन आपके जीवन में आने वाली जरूरतों को पूरा करने में शहर कितना सक्षम है , अर्थात क्या राजधानी रांची में हर बुनियादी जरूरत की वस्तुएं मौजूद हैं या फ...
राँची में मामी का अपने ही दामाद से अवैध संबंध बच्ची ने देखा तो उतार दिया मौत के घाट
Ranchi

राँची में मामी का अपने ही दामाद से अवैध संबंध बच्ची ने देखा तो उतार दिया मौत के घाट

रांची की डोरंडा पुलिस ने घटना के सात साल बाद बहुचर्चित नन्ही परी हत्याकांड का खुलासा कर लिया और दो आरोपितों को सोमवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। जेल जाने वालों में बच्ची की मंझली मामी शहजादी खातुन व शहजादी की बहन का दामाद मोहम्मद शाहिद अख्तर शामिल हैं। हत्या के पीछे शहजादी का मोहम्मद शाहिद से अवैध संबंध का मामला सामने आया है। बच्ची ने दोनों को संबंध बनाने देख लिया था। दोनों का भेद न खुल जाये, इसके चलते ही शहजादी के कहने पर शाहिद ने बच्ची की हत्या कर दी थी और रात के अंधेरे में बच्ची के घर के पास स्थित एक निर्माणाधीन मकान में शव को फेंक दिया था। रांची पुलिस आरोपितों की ब्रेन मैपिंग, वैज्ञानिक अनुसंधान व मोबाइल लोकेशन के आधार पर ही उन्हें गिरफ्तार की, जिसके बाद यह कहानी सामने आई। पुलिस ने दोनों ही आरोपितों शहजादी खातुन व मोहम्मद शाहिद अख्तर को सोमवार को न्यायिक दंडाधिकारी परमान...
बच्चो की स्कूल फी से परेशान माता पिता के लिए खुशखबरी, मुख्यमंत्री का नया आदेश पुरे राज्य में जा’री
Ranchi

बच्चो की स्कूल फी से परेशान माता पिता के लिए खुशखबरी, मुख्यमंत्री का नया आदेश पुरे राज्य में जा’री

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि फीस के अभाव में किसी भी छात्र-छात्रा को परीक्षा में शामिल होने से नहीं रोका जाय। उन्होंने कहा है कि निजी स्कूल भी फीस जमा नहीं करने पर किसी छात्र-छात्रा को वार्षिक परीक्षा से वं'चित नहीं कर सकते। सोमवार को स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग की समीक्षा के क्रम में सीएम ने कहा कि फीस नहीं चुकाने पर मैट्रिक व इंटरमीडिएट की परीक्षा के अलावा किसी भी कक्षा की वार्षिक परीक्षा से किसी विद्यार्थी को वं'चित नहीं किया जाएगा। चाहे वह सरकारी स्कूल हों या या फिर निजी स्कूल। किसी भी हाल में कोई विद्यार्थी परीक्षा से वं'चित नहीं किया जा सकता। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को ऐसी स्थिति पर निगरानी रखने का भी निर्देश दिया। स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के मंत्री जगरनाथ महतो ने सीएम की बैठक की जानकारी देते हुए कहा कि इसमें सरकारी स्कूलों में ...