Thursday, May 6

गोरखपुर में नही रहेगी अब ऑक्सिजन की कमी, शुरू एक और यूनिट

गोरखपुर में फिलहाल ऑक्सिजन की कमी नही है और आगे भी कमी न रहे इस हेतु प्रशासन  ने नया कदम उठाया , गोरखपुर जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन ने बताया  आवश्यकतानुसार पुरानी बन्द पड़ी ऑक्सीजन की फैक्ट्रीज को पुनः चालू करवाने हेतु वे उनके मालिको के संपर्क में है, यदि निजी मालिको द्वारा कोई रुचि नही ली जाती है तो उक्त कारखानों को सरकार द्वारा अधिग्रहित भी किया जा सकेगा ताकि आने वाले समय मे ऑक्सीजन की समस्या से जूझना न पड़े

 

 

जिलाधिकारी ने बताया कि फिलहाल न केवल गोरखपुर में पर्याप्त ऑक्सीजन है बल्कि लखनऊ, फैजाबाद, प्रयागराज और वाराणसी जैसे शहरों में भी यंहा से ऑक्सीजन भेजी जा रही है। आपको बता दे कि एक फैक्ट्री “अन्नपूर्णा गेस” जो काफी वर्षो से बन्द पड़ी थी उसको चालू करवाने के लिए भी गीडा द्वारा कोशिश की गई थी लेकिन बिजली बिल बकाया होने की वजह से चालू नही हो पाई थी

 

 

गोरखपुर औधोगिक विकाश प्राधिकरण(गीडा) ने दिखाई रुचि
जिला प्रशासन ने बताया कि ऑक्सीजन को लेकर गीडा द्वारा बेहतरीन प्रयास किये जा रहे है,बन्द पड़ी एक यूनिट को पुनः चालू करवाया गया है,गीडा में मोदी केमिकल्स की दो फैक्ट्रियां रोजाना करीब 1600 मेडिकल आक्सीजन सिलेंडर का उत्पादन कर रही हैं। इसी तरह एक अन्य फैक्ट्री आरके आक्सीजन में करीब एक हजार सिलेंडर का उत्पादन प्रतिदिन होता है आपको बता दे कि एक फैक्ट्री “अन्नपूर्णा गेस”  काफी वर्षो से बन्द पड़ी थी उसको चालू करवाने के लिए भी गीडा द्वारा कोशिश की गई लेकिन बिजली बिल बकाया होने की वजह से चालू नही हो पाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *